mukhyamantri shramik rojgaar yojana jharkhand

Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana Jharkhand। मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना झारखण्ड

Posted by
शेयर करें

झारखण्ड के श्रमिकों के लिए राज्य सरकार का तोहफा :-

मेरे प्यारे देश वासियों मैं आशा करता हूँ की आप सब लोग इस कोरोना काल में स्वस्थ होंगे और अपने अपने घरों में होंगे। आज मैं आपको झारखण्ड सरकार की एक योजना के बारे में बताऊंगा। इस योजना का नाम है Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana Jharkhand। इस योजना की शुरुवात झारखण्ड के मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी ने की है। इस योजना को नगर विकास एवं आवास विभाग द्व्रारा संचालित किया जाएगा। इस योजना से शहर में रहने वाले श्रमिकों को फायदा होगा। जितने भी मजदूर लोग इस कोरोना काल मे अपना काम छोड़ कर घर वापिस आय हैं उन्हें सरकार की तरफ से रोजगार दिया जाएगा। उनका श्रमिक रोजगार कार्ड बनाया जाएगा। आज मैं आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana Jharkhand की सारी जानकारी दूंगा। कृपया करके मेरे इस आर्टिकल को अंत तक पड़ें।

मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना झारखण्ड :-

Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana Jharkhand के अन्तर्ग्रत श्रमिकों को 1 साल में 100 दिन की नौकरी की गारंटी दी जायेगी। अगर किसी मजदूर को 15 दिनों के अंदर कोई काम नहीं मिलेगा तो उसे सरकार बेरोजगारी भत्ता देगी। मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना झारखण्ड के अन्तर्ग्रत कम से कम 5 लाख परिवारों को फायदा होगा। Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana Jharkhand में शहर में रहने वाले मजदूरों का मनरेगा कार्ड की तरह ही एक जॉब कार्ड बनेगा । जिससे वह अपने घर के पास ही मजदूरी का काम कर पाएंगे। इस योजना के शुरू हो जाने से झारखण्ड केरल के बाद दूसरा ऐसा राज्य बन जाएगा जिधर यह योजना चलाई गयी है। इससे मजदूरों को अपना राज्य छोड़ के कहीं दूर काम करने की कोई ज़रूरत नहीं पड़ेगी। इससे उनके पैसे भी बचेंगे और वह अपने घर से ही रोजाना काम को आ जा सकेंगे।

जरुरी विवरण :-

नाम                                                – – – – –                             Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana Jharkhand
किसने शुरू किया                         – – – – –                             मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी ने
किधर शुरू किया                          – – – – –                             झारखण्ड में
इससे किसे फायदा होगा               – – – – –                             राज्य के शहरी मजदूरों को
योजना का मकसद                        – – – – –                             राज्य के मजदूरों को रोजगार देना
सरकारी वेबसाइट                         – – – – –                              https://msy.jharkhand.gov.in/
ईमेल ID                                         – – – – –                              director.ma.goj@gmail.com
फ़ोन नंबर                                      – – – – –                              0651-2401955
टोल फ्री नंबर                                 – – – – –                             1800-120-2929

मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना झारखण्ड का मकसद :-

Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana Jharkhand का मकसद कोरोना काल में राज्य में वापिस आये शहर के मजदूरों को रोजगार के अवसर देना। इसका उद्श्य अपने राज्य के लोगो को अपने ही राज्य में घर के पास काम दिलवाना है। जिससे उनके पैसे भी बचेंगे और वह रोजाना अपने घर से काम पर आ जा सकेंगे। मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना झारखण्ड का मकसद अपने राज्य के लोगों को अपने ही घर के आस पास काम दिलवाना है। जिससे उन्हें अपना राज्य छोड़ के कहीं और काम करने की ज़रूरत न पड़े। जिधर भी सरकार उन्हें काम देगी वहां पर शुद्ध पीने का पानी दिया जाएगा ,फर्स्ट ऐड बॉक्स की सुविधा दी जायेगी और जिन महिलाओं के बच्चे है उन्हें उनके बच्चों को रखने की जगह दी जायेगी ताकि वह अपना काम आराम से कर सकें।mukhyamantri shramik rojgar yojana jharkhand

मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना झारखण्ड के फायदे :-

Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana Jharkhand का सबसे ज़ादा फायदा झारखण्ड के शहर मे रहने वाले मजदूरों को होगा। मजदूरों को 1 साल मे100 दिन की रोजगार गारंटी दी जायेगी। अगर रिजिस्टरी करवाने के 15 दिन तक किसी को रोजगार नहीं मिला तो उसे बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। स्वच्छता कार्यों से लेकर विकास परियोजनाओं तक बोहत से रोजगार शहरों में प्रदान किये जाएंगे। श्रमिकों को रिजिस्टरी के बाद मजदूरी के पहले महीने मे मजदूरी का एक चौथाई भाग दे दिया जायेगा। 60 दिन हो जाने के बाद आधी मजदूरी दे दी जाएगी। फिर पूरे 100 दिन हो जाने के बाद श्रमिक को पूरे 100 दिन की मजदूरी दे दी जायेगी। इस योजना में अप्लाई करने के लिए आवेदक की उम्र कम से कम 18 साल होनी चाहिए। इसका फायदा शहर में रहने वाले मजदूरों को होगा।

मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना झारखण्ड की पात्रता :-

  1. आवेदक झारखण्ड का ही रहने वाला होना चाहिए।
  2. इसमें लड़के लड़कियां दोनों अप्लाई कर सकते हैं।
  3. आवेदक की उम्र 18 साल से ज़ादा होनी चाहिए।
  4. अप्लाई करने वाले का मनरेगा कार्ड नहीं बना होना चाहिए।
  5. इसमें सिर्फ झारखण्ड के शहर मे रहने वाले मजदूर ही अप्लाई कर सकते हैं।shramik rojgar yojana

जरुरी दस्तावेज :-

  1. आधार कार्ड
  2. पहचान पत्र
  3. एड्रेस प्रूफ
  4. मोबाइल नंबर
  5. फोटो (पासपोर्ट साइज)

मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना झारखण्ड मे कैसे अप्लाई करें :-

Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana Jharkhand में अप्लाई करने के लिए आपको सबसे पहले सरकारी वेबसाइट पर जाना होगा। जैसे आप सरकारी वेबसाइट को खोलेंगे आपके सामने होम पेज खुल जाएगा उधर आपको “अप्लाई फॉर जॉब कार्ड” के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। उसके बाद अप्पके पास आवेदन फॉर्म खुल जाएगा। mukhyamantri shramik rojgar yojanashramik rojgar yojana jharkhandआपको उसको ढंग से पड़ना होगा और भरना होगा। उसके बाद ” मैं उपरोक्त घोषणा से सहमत हूं ” के ऑप्शन को सेलेक्ट करना होगा और कैप्चा कोड डालना होगा। कैप्चा कोड डालने के बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। ऐसे आप मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना झारखण्ड में अप्लाई कर पाएंगे। उसके बाद Application Ref Number / आवेदन संदर्भ संख्या को नोट करके रख लें।

मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना झारखण्ड का जॉब कार्ड कैसे डाउनलोड करें :-

Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana Jharkhand का जॉब कार्ड डाउनलोड करने के लिए आपको सबसे पहले सरकारी वेबसाइट पर जाना होगा। उधर आपके सामने एक होम पेज खुल जाएगा। वहाँ आपको एप्लीकेशन के ऑप्शन पर जाना होगा। एप्लीकेशन के ऑप्शन के अंदर आपको डाउनलोड जॉब कार्ड के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। job card downloadउसके बाद आपके सामने एक छोटा सा फॉर्म खुल जाएगा उधर आपको अपना आधार कार्ड नंबर डालना होगा और एप्लीकेशन रेफ़्रेन्स नंबर डालना होगा। फिर कैप्चा कोड डालना होगा और सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आप अपना जॉब कार्ड देख पाएंगे और डाउनलोड कर पाएंगे।

Swachh Bharat Mission Gramin। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण। शौचालय लिस्ट 2021
Agriculture Reform Bill। कृषि सुधार बिल 2020। किसान आंदोलन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *