sant ravidas shiksha sahayata yojana

Sant Ravidas Shiksha Sahayata Yojana। संत रविदास शिक्षा सहायता योजना। अप्लाई

Posted by
शेयर करें

उत्तर प्रदेश के श्रमिकों के बच्चों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार का तोहफा :-

मेरे प्यारे देश वासियों मैं आशा करता हूँ की आप सब लोग इस कोरोना काल में स्वस्थ होंगे और अपने अपने घरों में होंगे। जैसा की आप लोग जानते हैं की पिछले साल लॉकडाउन के समय श्रमिकों को बोहत साड़ी परेशानी उठानी पड़ी थी। कई लोग अपने घर वापिस आ गए और उनके बच्चों की पढाई मे भी नुक्सान हो गया। इन लोगों की इसी समस्या को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने एक योजना को शुरू किया है। इस योजना का नाम है Sant Ravidas Shiksha Sahayata Yojana। आज मैं आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से संत रविदास शिक्षा सहायता योजना की सारी जानकारी दूंगा कृपया करके मेरे इस लेख को अंत तक पड़ें।

संत रविदास शिक्षा सहायता योजना 2021 :-

Sant Ravidas Shiksha Sahayata Yojana की शुरूवात उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने मजदूर दिवस पर की है। इस योजना से जो श्रमिकों के बच्चे हैं वह अप्लाई कर सकते हैं। इस योजना के अन्तर्ग्रत जो श्रमिकों के बच्चे हैं उन्हें उनकी पढाई के लिए हर महीने कक्षा के हिसाब से सटाइफंड दिया जाएगा। इस योजना में पहली से बारवीं तक के बच्चे अप्लाई कर सकते है। आईटीआई ,पॉलिटेक्निक ,इंजीनियरिंग और मेडिकल फेल्ड मे पड़ रहे बच्चे भी इस योजना में अप्लाई कर सकते हैं। इस योजना में वही विद्यार्थी अप्लाई कर पाएंगे जो राज्य के मान्यता प्राप्त संस्थानों से पड़ रहे होंगे। मतलब जो बच्चे सरकारी स्कूल और कॉलेज मे पद रहे होंगे उन्हें ही इस योजना से फायदा मिलेगा।sant ravidas shiksha

जरुरी विवरण :-

नाम                                                    – – – – –            Sant Ravidas Shiksha Sahayata Yojana
किसने शुरू की                                 – – – – –            मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने
इस योजना को कहाँ शुरू किया       – – – – –            उत्तर प्रदेश में
इससे किसे फायदा होगा                   – – – – –            उत्तर प्रदेश मे रहने वाले श्रमिकों के बच्चों को
योजना का मकसद                            – – – – –            श्रमिकों के बच्चों को उनकी पढाई मे सहायता करना।
हेल्पलाइन नंबर                                 – – – – –            18001805412
सरकारी वेबसाइट                             – – – – –             http://upbocw.in/StaticPages/shikshaHetuScholarship.aspx

संत रविदास शिक्षा सहायता योजना के अन्तर्ग्रत मिलने वाली राशि (स्टाइफंड) :-

Sant Ravidas Shiksha Sahayata Yojana के अन्तर्ग्रत मिलने वाली राशि कुछ इस प्रकार है।

  1. पहली कक्षा से लेकर पांचवी कक्षा के बच्चों को 100 रुपए हर महीने मिलेंगे ।
  2. छठी कक्षा से लेकर आठवीं कक्षा के बच्चों को 150 रुपए हर महीने दिए जाएंगे।
  3. नौवीं से लेकर दसवीं तक के बच्चों को हर महीने 200 रुपए मिलेंगे।
  4. गयारवीं से लेकर बारवीं तक के बच्चों को 250 रुपए स्टाइफंड के रूप मे हर महीने दिए जाएंगे।
  5. आईटीआई और उस जैसा कोई कोर्स कर रहे बच्चों को 500 रुपए हर महीने दिए जाएंगे।
  6. पॉलिटेक्निक और कोई 3 साल का डिप्लोमा कर रहे बच्चों को 800 रुपए हर महीने दिए जाएंगे।
  7. इंजीनियरिंग एवं समक्ष पाठ्यक्रमों करने वाले बच्चों को हर महीने 3000 रुपए की धन राशि दी जायेगी।
  8. मेडिकल लाइन मे पढाई कर रहे बच्चों को हर महीने 5000 रूपए स्टाइफंड दिया जाएगा।
  9. PHD कर रहे विद्यार्थियों को हर महीने 12000 रुपए का स्टाइफंड मिलेगा।sahayata yojana uttar pradesh

संत रविदास शिक्षा सहायता योजना का मकसद :-

Sant Ravidas Shiksha Sahayata Yojana का मकसद हमारे राज्य के श्रमिक परिवार के बच्चों को पड़ने के लिए कुछ धन राशि (सटाईफण्ड) प्रदान करना जिससे उनकी पढाई में कोई बाधा ना आये। इस योजना का उदेश्य श्रमिकों के बच्चों को पढाई करने के लिए प्रेरित करना है। इससे उत्तर प्रदेश के ज़ादा से ज़ादा बच्चे पढाई पूरी कर पाएंगे और मजदूरी के इलावा कोई अच्छी सी नोकरी कर पाएंगे। कई बार गरीबी के कारण लोग बच्चों को आगे पढ़ा नहीं पाते थे। लेकिन अब सरकार बच्चों को पढाई के खर्चे के लिए 100 रुपए से लेकर 3000 रूपए तक की राशि देगी। बच्चे आत्मनिर्भर हो जाएंगे और अपना पढाई का खर्चा निकाल पाएंगे। इस योजना का मकसद गरीब और श्रमिक परिवार के बच्चों की मदद करना है।

संत रविदास शिक्षा सहायता योजना के फायदे :-

Sant Ravidas Shiksha Sahayata Yojana का सबसे ज़ादा फायदा उत्तर प्रदेश के श्रमिकों के बच्चों को होगा। इससे बच्चे आत्मनिर्भर बनेंगे और अपनी पढाई का खर्चा खुद उठा पाएंगे। PDH कर रहे छात्रों को हर महीने 12000 रुपए दिए जाएंगे और उनकी उम्र 34 साल से कम होनी चाहिए। स्कूल और कॉलेज मे पड़ रहे बच्चों की उम्र 24 साल से कम होनी चाहिए तभी वह इस योजना का फायदा ले पाएंगे। अगर कोई बच्चा किसी कक्षा में फेल हो रहा है तो उसे इस योजना का फायदा नहीं मिलेगा। इस योजना का फायदा उन्ही बच्चों को मिलेगा जिनकी अटैंडेंस 60 % से ज़ादा होगी। इस योजना से बच्चे आगे पड़ने के लिए प्रेरित होंगे। गरीबी के कारण लोग अपने बच्चों को पढ़ाते नहीं थे पर सरकार की इस योजना से उनका काम आसान हो जाएगा और वह अपने बच्चों को पड़ने के लिए भेज देंगे।sant ravidas sahayata yojana

संत रविदास शिक्षा सहायता योजना मे कौन कौन अप्लाई कर सकता है :-

  1. आवेदक उत्तर प्रदेश का ही रहने वाला होना चाहिए।
  2. इसमें लड़के और लड़कियाँ दोनों अप्लाई कर सकते हैं।
  3. आवेदक के माता पिता मजदूर बोर्ड में पंजीकृत निर्माण कामगार होने चाहिए।
  4. एक परिवार के सिर्फ दो बच्चों को ही इस योजना का फायदा मिलेगा।
  5. इसमें सिर्फ वही अप्लाई कर सकते हैं जो सरकारी या सरकार द्व्रारा मान्यता प्राप्त स्कूल या कॉलेजों मे पड़ रहे होंगे।ravidas yojAna

जरुरी दस्तावेज :-

  1. आधार कार्ड
  2. पासपोर्ट साइज फोटो
  3. आय प्रमाण पत्र
  4. स्कूल का प्रमाण पत्र
  5. बैंक अकाउंट का विवरणsant sahayata yojana

संत रविदास शिक्षा सहायता योजना मे कैसे अप्लाई करें :-

Sant Ravidas Shiksha Sahayata Yojana मे अप्लाई करने के लिए आपको सबसे पहले नजदीकी लेबर दफ्तर या फिर तहसीलदार के दफ्तर मे जाना होगा। वहां से आपको संत रविदास शिक्षा सहायता योजना का आवेदन फॉर्म लेना होगा। फिर आपको उस फॉर्म को ढंग से पड़ कर भरना होगा। फॉर्म को भरने के बाद आपको उसके साथ जरुरी दस्तावेज लगाने होंगे। फिर उसके बाद आपको दोबारा नजदीकी लेबर ऑफिस या तसीलदार के दफ्तर जाना होगा और उस फार्म को दस्तावेजों के साथ जमा करवाना होगा। ऐसे आप इस योजना मे रिजिस्टरड हो जाएंगे। अगर आपको इस योजना से सम्बंधित कोई और जानकारी चाहिए हो तो आप सरकारी वेबसाइट पर जाकर ले सकते हैं।

Swachh Bharat Mission Gramin। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण। शौचालय लिस्ट 2021
Agriculture Reform Bill । कृषि सुधार बिल 2020। किसान आंदोलन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *