Uttar Pradesh Shramik Panjikaran

उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण योजना ऑनलाइन एप्लीकेशन/आवेदन, पंजीकरण प्रक्रिया (Registration Process)

Posted by
शेयर करें

Uttar Pradesh Shramik Registration Process (पंजीकरण प्रक्रिया) :

  •  उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण योजना में राज्य सरकार राज्य के सभी मजदूरों को पंजीकृत करने का अवसर मिलता है। श्रमिक पंजीकरण योजना के अंतर्गत जो मजदूर पंजीकृत होंगे उनके राज्य सरकार की सभी सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकेंगे। इस योजना का सुभारम्भ श्री योगी आदित्य नाथ योगी द्वारा किया गया है। राज्य के जो दिहाड़ी मज़दूर और वो मज़दूर जो किसी निर्माण क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं। उनके लिए ही इस योजना को लागू किया गया है। वह लोग इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं और सरकारी योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं।
  • इस योजना का लाभ वही श्रमिक ले सकते हैं। जिनकी मासिक आय 15000 से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के नागरिक ही ले सकते हैं। किसी और इस योजना का लाभ किसी और राज्य के लोग नहीं उठा सकते हैं। यह योजना वस उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई गई है किसी और राज्य के द्वारा नहीं।

श्रमिक पंजीकरण कैसे करे :-

इस श्रमिक पंजीकरण से मजदूरो को बहुत लाभ मिल सकता है जैसे अगर राज्य सरकार कोई सरकारी योजना चलाती है तो मजदूरों को काम मिलेगा और उनको आर्थिक सहायता मिलेगी। जो भी मज़दूर काम करेंगे पैसे सीधे उनके बैंक खाते में आ जाएंगे उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा चलाई गयी श्रमिक पंजीकरण योजना के तहत मजदूरों को 12 हज़ार से लेकर 1 लाख तक की आर्थिक सहायता की जाएगी इस योजना का लाभ उठाने के लिए सबसे पहले श्रमिकों को पंजीकरण करवाना होगा और अपना श्रमिक कार्ड बनाना होगा इस योजना का लाभ उठाने के लिए श्रमिकों की आयु 18 वर्ष से लेकर 60 वर्ष के मध्य होनी चाहिए।

Shrmik Panjikaran स्कीम का मुख्य आकर्षण (Highlights):-

  1. योजना का नाम – श्रमिक पंजीकरण
  2. किनके द्वारा शुरू की गई – उत्तर प्रदेश सरकार
  3. लाभार्थी – उत्तर प्रदेश के निबासी
  4. पंजीकरण का प्रकार – ऑनलाइन/ऑफलाइन

आवेदन कौन कौन कर सकता है :-

राजमिस्त्री, पथर तोड़ने वाले, चटान तोड़ने वाले, खिड़की ग्रिल या दरबाजे बनाने वाले, निर्माण स्थल पर चौकीदारी करने वाले, चूना बनाने का काम करने वाले, मोजेक पोलिस, लोहार, ईंट भट्टों पर ईंट बनाने वाले, सीमेंट पथर ढोने वाले पुताई करने वाले, इलेक्ट्रिक वाले, बाँध बनाने वाले, भवन निर्माण करने वाले हथोड़ा चलाने वाले छप्पन छानने वाले कुआँ खोदने वाले प्लम्बर, सड़क निर्माण करने वाले आदि।

कौन सी सरकारी योजनाओं वाले लाभ ले सकते हैं:-

मेधावी छात्र पुरुष्कार योजना, शिशु हितलाभ योजना, निर्माण कामगार बालिका मदद योजना, निर्माण कामगार अन्ते यष्टि योजना, निर्माण कामगार मृत्यु और विकलांग सहायता योजना, बिधबा पेंशन सहायता योजना, अक्षमता पेंशन योजना, पेंशन सहायता योजना, सोर ऊर्जा सहायता योजना, आवासीय विद्यालय योजना, गंभीर बीमारी सहायता योजना, कन्या विवाह योजना, कौशल विकास तकनीकी योजना, संत रविदास शिक्षा सहायता योजना।

श्रमिक पंजीकरण के लिए ज़रूरी कागजात :-

  • आधार कार्ड, राशन कार्ड, वोटर कार्ड, मोबाइल नंबर, परिवार के सभी सदस्यों के पहचान पत्र, पासपोर्ट साइज फोटोज़ , बैंक खाता।
  •  श्रमिक पंजीकरण में आवेदन करने वाला व्यक्ति उत्तर प्रदेश का नीवासी होना चाहिए।
  • इस योजना में आवेदन करने वाले नागरिक की आयु 18 साल से 60 साल के बीच की होनी चाहिए।
  • इस योजना के लिए आवेदन सिर्फ परिवार का मुखिया ही कर सकता है।
  • जिन श्रमिकों ने पिछले 12 मास में 90 दिन काम किया है वो श्रमिक ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

Uttar Pradesh Labour Registration

आवेदन कैसे करें :-

  • राज्य के जो इच्छुक लोग हैं वो नीचे दी गयी इनफार्मेशन के ज़रिये आवेदन कर सकते हैं।
  • सबसे पहले आपको  U P Labour (श्रमिक विभाग) की सरकारी वेबसाइट खोलनी है। उसपे क्लिक करके फिर उत्तर प्रदेश लेबर डिपार्टमेंट की वेबसाइट खुल जाएगा।
  • इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा फिर आपकी स्क्रीन पर अधिनियम प्रबंधन प्रनाली पर क्लिक करके इसका का पेज खुल जाएगा उसपर क्लिक करने से Labour Act Management System की वेबसाइट खुल जाएगी फिर अपनी भाषा को चुने और वेबसाइट परपर दिए गए सभी निर्देशों को पढ़े फिर पोर्टल की सदस्य्ता को प्राप्त करे अगर आप नए यूजर है तो register now पर क्लिक करें , उसमे यूजर आई डी (User i.d) और पासवर्ड (password) को क्रिएट करे उसके बाद यूजर आई डी और पासवर्ड पर लॉगिन करे क्लिक करने के बाद जो निर्देश दिए गए हैं। उनके पढ़े उसके बाद ” I have read all instructions carefully” को टिक करे फिर ” I agree” पर क्लिक करें।
  • इसके बाद फॉर्म में पूछी गई सारी जानकारी को भरे और सेव कर दे अपलोड अटैचमेंट पर जाके अपनी अटैचमेंट लगा सकते है फिर इसके भुगतान के लिए दो ऑप्शन होते है पहला चालान – वो आपका काम बैंक से होगा, और दूसरा ऑनलाइन – इसमें आप ऑनलाइन पेमेंट कर सकते है फिर जो फ़ोटोस्टेट होती है वो अपने पास रख लें।
  • आप इस योजना का लाभ लेने के लिए कुछ दस्ताबेज पंचायत से मिलेंगे कुछ ऑनलाइन कागज़ लेने होंगे और बैंक से अकाउंट अटैच करना पड़ेगा।

इसके साथ आप यूपी राशन कार्ड  U.P ration card application form के बारें में भी संक्षित रूप से जानकारी पा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *